You are currently viewing Typhoid को ठीक करने के घरेलू उपाय
Typhoid को ठीक करने के घरेलू उपाय

Typhoid को ठीक करने के घरेलू उपाय

Typhoid एक खतरनाक बीमारी है, ये बीमारी डिहाइड्रेशन के कारण होती है इस बीमारी को मियादी बुखार भी कहते है। आमतौर पर ये बुखार चार-पांच दिन तक रहता है इससे सक्रंमित रोगी का टेम्परेचर 104 डिग्री फारेनहाइट से भी बढ़ सकता है इसके कारण व्यक्ति को कमजोरी होजाती  है, पाचन तंत्र भी ठीक नहीं रहता टाइफाइड को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय इस प्रकार है –

  1. तुलसी और सूरजमुखी – टाइफाइड की बीमारी में तुलसी और सूरजमुखी के पत्तों को पानी में उबालकर पीने से राहत मिलती है। इसका सेवन दिन में तीन -चार बार करें। इसके अलावा अगर सर्दी-जुकाम है तो  पानी में तुलसी, मुलेठी, शहद और मिश्री को मिलाकर काढ़ा बनाकर पीना चाहिए, इससे आराम मिलता है।
  2. सेब का जूस – इस बीमारी में सेब के जूस का सेवन करने से आराम मिलता है, इसके लिए हमे सेब के जूस में थोड़ा सा अदरक का रस मिलाकर पीने से बुखार ठीक होता है। इसके आलावा उबला हुआ पानी का सेवन करना चाहिए। 
  3. लौंग – इसके लिए लौंग को एक गिलास पानी में उबालकर पीने से टाइफाइड के कारण होने वाली कमजोरी को ठीक किया जा सकता है। इसके लिए एक गिलास पानी में 6-7 लौंग उबाल लें  जब पानी आधा रह जाये तो इसका सेवन करना चाहिए। 
  4. शहद – इसके लिए गुनगुने पानी में थोड़ा सा शहद मिलाकर पीने से इस बुखार से राहत मिलती है। इस बुखार में शहद, पान और अदरक का रस बराबर मात्रा में मिलाकर पीने से बहुत फायदा होता है। 
  5. अंजीर – इसमें  पोटेशियम, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, मैंगनीज, आयरन,  कैल्शियम प्रोटीन फाइबर के साथ अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते है जो  टाइफाइड को ठीक करने में मदद करते है। इसलिए हमें अंजीर का सेवन करना चाहिए। 
  6. मुनक्का – इसमें पोटेशियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है इसके अलावा  आयरन, बी कॉम्प्लेक्स विटामिन, विटामिन ए, विटामिन डी और फाइबर के तत्व होते है जो इस बीमारी के कारण होने  वाली कमजोरी को दूर करता है। 
  7. लहसुन – इसके लिए  लहसुन को आग में भूनकर भी सेवन कर सकते है। इसके अलावा  लहसुन को तिल के तेल या घी में फ्राई करके भी खाया  जा सकता है। इसके अलावा इसमें सेंधा नमक मिलाकर भी खा सकते है। 
  8. प्याज – प्याज का सेवन करने से टाइफाइड से राहत मिलती है, इसके लिए  प्याज के रस का सेवन करना चाहिए और कच्चा प्याज खाने से भी इस बुखार ठीक किया जा सकता है। 
  9. पुदीना और अदरक – इसके लिए पुदीना के पत्तों और अदरक के छोटे-छोटे टुकड़ों को पानी में डालकर काढ़ा बनाकर पीने से टाइफाइड से छुटकारा पाया जा सकता है।
  10. आराम – इस बीमारी में अधिक से अधिक आराम की जरूरत होती है ताकि संक्रमण को रोका जा सके, हमारा शरीर कमजोर होने के कारण हमें अधिक देर आराम करना चाहिए। 
  11. पौष्टिक आहार – टाइफाइड में अधिक कमजोरी के कारण हमें अधिक पौष्टिक आहार खांने की जरूरत होती है ,इसके लिए हमें ताज़े फलों के जूस का सेवन करना चाहिए और बार-बार पानी पीते रहना चाहिए ताकि डिहाइड्रेशन की सम्स्या को दूर किया जा सके और हमारे शरीर को शक्ति मिल सके। हमें उबला हुआ खाना खाना चाहिए, तले हुए खाने से दूर रहना चाहिए। 

तो हम कह सकते है की इन घरेलू उपायों की मदद से टाइफाइड की बीमारी को ठीक किया जा सकता इसके लिए हमें अपने खान-पान पर ध्यान देना चाहिए। हमें नियमित रूप से फलो का रस, अधिक मात्रा में उबला हुआ पानी और खाना भी उबला हुआ खाना चाहिए क्योंकि इस बीमारी में हमारा पाचन तंत्र भी कमजोर हो जाता है। अधिक देर आराम करना चाहिए।

Leave a Reply