You are currently viewing Blood Clots (खून के थक्के) को ठीक करने के घरेलू उपाय

Blood Clots (खून के थक्के) को ठीक करने के घरेलू उपाय

हमारे शरीर में रक्तवहनीय खून का संचार एक जगह से दूसरी जगह तक करती है,पर कई बार हमारे रक्तवहनी में क्लॉट्स जमा होने लगते है जोकि अपने आप घुल जाते है ,पर कई बार ये घुल नहीं पाते ऐसे क्लॉट्स इकठे होने से कई प्रकार की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है, कई बार ये कैंसर का रूप ले लेता है।

कई बार बच्चे खेलते हुए गिर जाते है तो उनके सर में या किसी और अंग पर चोट लग जाती है जिस के कारण खून बाहर निकलने की बजाय एक क्लॉट बन जाता है तो ऐसे में बच्चे को दर्द भी होती है और सूजन भी होती है तो ऐसे में इन क्लॉट्स को ठीक करने के कुछ घरेलू उपाय इस प्रकार है –

  1. विच हेजल के इस्तेमाल से – इसके लिए विच हेजल की छाल को शरीर के क्लॉट वाली जगह लगाने से क्लॉट कम होने लगता है इसे लगाने से सूजन भी कम होती है और दर्द भी कम हो जाता है। 
  2. प्याज और लहसुन के सेवन से – प्याज और लहसुन के सेवन से शरीर में क्लॉटिंग की समस्या नहीं होती इन्हे कच्चा भी खाया जा सकता है। 
  3. खीरे के सेवन से – इसके लिए खीरे के जूस का सेवन किया जा सकता है और इसके आलावा इसकी गोल स्लाइस काटकर रक्त के क्लॉट पर लगाने से दर्द और सूजन कम होती है। 
  4. चंदन के इस्तेमाल से – इसके लिए चंदन में गुलाबजल मिलाकर पेस्ट बनाकर रक्त के क्लॉट्स पर लगाकर थोड़ी देर बाद धोने से दर्द और सूजन से आराम मिलता है।
  5. मसाज करने से – क्लॉटिंग वाली जगह पर गर्म तेल या घी से मसाज करने से भी ब्लड क्लॉट्स की समस्या दूर होती है। नियमित रूप से मसाज करने से क्लॉट्स की समस्या नहीं होगी और रक्तवहनीय भी सही से काम करती   है। 
  6.  फायबर युक्त आहार के सेवन से – खून को साफ और सही रखने के लिए फायबर युक्त आहार का सेवन करना चाहिए, जैसेकि ब्राउन राइस, गाजर, ब्रोकली, मूली, शलजम,सेब और इसका जूस का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। 
  7. एक्सरसाइज और व्यायाम – नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हमारे शरीर से पसीना बाहर निकलेगा जिसके कारण खून साफ होता है और गाढ़ा नहीं होता ,इससे ब्लड क्लॉटिंग की समस्या नहीं होती। 
  8. गहरी सांस ले – रोज सुबह जल्दी उठकर गहरी सांस लेने से रक्त संचार सही रहता है, ऑक्सीजन की सही मात्रा होने से फेफड़े भी स्वस्थ रहते है, और ब्लड क्लॉटिंग की समस्या नहीं होती। 
  9. अदरक  और हल्दी का सेवन – अदरक और हल्दी में बिमारियों से लड़ने की और उन्हें दूर करने की क्षमता होती है अदरक की चाय बनाकर पीने से या अदरक को कच्चा खाने से क्लॉटिंग की समस्या कम होती है और हल्दी को दूध में मिलाकर पीने से सूजन और दर्द को ठीक किया जा सकता है। 
  10. हर्बल टी का सेवन – इसके लये हर्बल टी में थोड़ा सा शहद मिलाकर पीने से ब्लड क्लॉट्स की समस्या दूर होती है इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते है जो ब्लड क्लॉट्स को ठीक करने में मदद करते है।
  11. धूम्रपान का निषेद – अगर शरीर में ब्लड क्लॉटिंग की समस्या है तो धूम्रपान को जल्द से जल्द छोड़ देना चाहिए क्योंकि धूम्रपान करने से मासपेशियां कमजोर होती है और ये ब्लड क्लॉटिंग की समस्या को और बढ़ा देता है। 

तो हम कह सकते है कि इन घरेलू उपायों कि मदद से ब्लड क्लॉटिंग कि समस्या को ठीक किया जा सकता है। इसके आलावा अपने खान-पान और नियमित जीवनशैली को अपनाकर इस समस्या से बचा जा सकता है |   

Leave a Reply