You are currently viewing सर्दी और खांसी को घर पर करें ठीक
Cold and Cough

सर्दी और खांसी को घर पर करें ठीक

सर्दी, खांसी की समस्या मानसून बदलने पर सबसे ज्यादा परेशान करती है। इससे निपटने के लिए हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचार बताए जा रहे हैं जो प्रभावी रूप से मददगार साबित होI घरेलू उपचार का प्रयोग भारत में काफी लंबे समय से किया जा रहा है। छोटी से छोटी स्वास्थ्य समस्या और कुछ सामान्य मेडिकल कंडीशन को ठीक करने के लिए घरेलू उपचार प्रभावी रूप से मददगार साबित होता है। आज भी बहुत सारे लोग सर्दी, खांसी की समस्या होने पर घरेलू उपचार का ही सहारा लिया जाता है। हम आपको कुछ ऐसे बेहतरीन घरेलू उपचारों के बारे में आपको जानकारी दी जा रही है जिसका इस्तेमाल करके आप घर बैठे सर्दी, खांसी की समस्या को दूर कर सकते हैं। कोरोना वायरस के इस बुरे दौर में इन घरेलू उपचारों के जरिए आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होगी और आप स्वस्थ बने रहेंगे। आइए घरेलु उपचारों के बारे में जानते हैं:

​तुलसी की पत्तियां

तुलसी की पत्तियों का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने के लिए मददगार होता है। वहीं, जब आप सर्दी-खांसी की समस्या से परेशान हैं तो आप 5-6 तुलसी की पत्तियों को चार से पांच कालीमिर्च के साथ एक गिलास पानी में उबालकर इस पानी का सेवन करें। आपकी सर्दी; खांसी को ठीक करने के लिए यह घरेलू नुस्खा बहुत काम आ सकता है। तुलसी में मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल एक्टिविटी विशेष रूप से कार्य करती है।

​शहद का सेवन

सर्दी, खांसी को दूर करने के घरेलू उपचार में शहद का सेवन सबसे ज्यादा किया जाता है। इसे अलग-अलग रूपों में हम खा सकते हैं। खांसी की समस्या को दूर करने के लिए शहद को चाट-चाटकर खाने की सलाह दी जाती है। इससे मुंह में मौजूद हानिकारक सलाइवा को खत्म करने में आसानी होती है और खांसी को रोकने में भी काफी मदद मिलती है।

शहद में मौजूद एंटी वायरल एक्टिविटी सर्दी की समस्या को ठीक करने के लिए भी काफी फायदेमंद होती है। सर्दी की समस्या को दूर करने के लिए आप शहद को अदरक में मिलाकर भी खा सकते हैं।

अदरक का सेवन

सर्दी, खांसी की समस्या को दूर करने के लिए अदरक में ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो प्रभावी रूप से मददगार साबित हो सकते हैं। अगर आप खांसी की समस्या से परेशान हैं तो रात में सोने से पहले गुड़ के छोटे से टुकड़े के साथ अदरक का एक छोटा टुकड़ा मुंह में रखकर, धीरे-धीरे इससे निकलने वाले रस का सेवन करते रहें। इस घरेलू उपचार के जरिए 2 से 3 दिन में आपकी खांसी की समस्या जरूर ठीक हो जाएगी।

लौंग

भारतीय मसालों में प्रमुख स्थान रखने वाली लौंग को आयुर्वेद में विभिन्न प्रकार से उपयोग करने की सलाह दी जाती है। खासकर जिन लोगों को सर्दी, खांसी की समस्या होती है उन्हें लौंग को भूनकर खाने के लिए कहा जाता है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी के एक अध्ययन के अनुसार भी इस बात के सुबूत दिए गए हैं कि लौंग का सेवन करने के कारण कॉमन कोल्ड और कफ की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है।

दालचीनी

कोरोना वायरस संक्रमण को दूर करने के लिए अस्पताल में दिए जाने वाले काढ़े में दालचीनी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। दालचीनी सर्दी, खांसी और जुकाम के लक्षणों को भी ठीक करती है। इसके लिए आपको दालचीनी के 1 इंच के 4-5 टुकड़ों को 2 गिलास पानी में उबालना है। उबलने के बाद जब एक गिलास पानी बचे तो इसका सेवन करें। इससे आपको काफी राहत मिल सकती है।

गर्म पानी
जितना हो सके गर्म पानी पिएं। आपके गले में जमा कफ खुलेगा और आप सुधार महसूस करेंगे।

हल्दी वाला दूध
बचपन में सर्दियों में नानी-दादी घर के बच्चों को सर्दी के मौसम में रोज हल्दी वाला दूध पीने के लिए देती थी। हल्दी वाला दूध जुकाम में काफी फायदेमंद होता है क्योंकि हल्दी में एंटीआॅक्सीडेंट्स होते हैं जो कीटाणुओं से हमारी रक्षा करते हैं। रात को सोने से पहले इसे पीने से तेजी से आराम पहुचता है। हल्दी में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल प्रॉपर्टीज मौजूद रहती है जो की इन्फेक्शन से लडती है। इसकी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज सर्दी, खांसी और जुकाम के लक्षणों में आराम पहुंचाती है।

मसाले वाली चाय
अपनी चाय में अदरक, तुलसी, काली मिर्च मिला कर चाय का सेवन कीजिए। इन तीनों तत्वों के सेवन से खांसी-जुकाम में काफी राहत मिलती है।

अनार का रस
अनार के जूस में थोडा अदरक और पिपली का पाउडर डालने से खांसी को आराम मिलता है।

काली मिर्च
अगर खांसी के साथ बलगम भी है तो आधा चम्मच काली मिर्च को देसी घी के साथ मिलाकर खाएं। आराम मिलेगा।

गाजर का जूस
सुनने में अटपटा लग सकता है लेकिन खांसी-जुकाम में गाजर का जूस काफी फायदेमंद होता है लेकिन बर्फ के साथ इसका सेवन न करें।

Leave a Reply