You are currently viewing संत कबीर जी

संत कबीर जी

“बुरा जो देखन मैं देखन चला, बुरा न मिलिया कोय, जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।”

Leave a Reply