You are currently viewing पपीते के पत्ते के जूस के स्वास्थ्य लाभ
पपीते के पत्ते के जूस के स्वास्थ्य लाभ

पपीते के पत्ते के जूस के स्वास्थ्य लाभ

पपीते का सेवन तो हर कोई करता है इसका सेवन हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही उपयोगी। ये हमारी स्किन और बालों के साथ साथ बिमारियों को दूर रखने में मदद करता है। कई जानलेवा बीमारियां जैसेकि डेंगू,मलेरिआ आदि को ठीक करने के लिए पपीते के पत्तों का सेवन करना चाहिए ,इसके लिए हमें इसके पत्तों का जूस बनाकर पीना चाहिए जोकि हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही गुणकारी है। पपीते के पत्ते के जूस के सेवन से होने वाले स्वास्थ लाभ इस प्रकार है – 

  1. त्वचा और शरीर के लिए पपीते के पत्ते के जूस के फायदे – अक्सर नीम, तुलसी, सिंहपर्णी, एलोवेरा और पुदीने के पत्तों के बारे में सुना ही है कि ये हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद है। पपीते का पत्ते में औषधीय गुण होते हैं। पपीते के पत्ते के जूस के सेवन से कई जानलेवा बिमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। 
  2. पपीते के पत्ते का जूस कैसे बनाये – सबसे पहले 5-10 ताजे और कोमल पपीते के पत्ते लें। उन्हें बहते पानी के नीचे 5-6 बार धो लें। इसके बाद, उन्हें जूसर जार में डालें और अच्छी तरह से एक चिकनी स्थिरता के लिए ब्लेंड करें। आप पत्तियों को अच्छी तरह से कुचलने के लिए एक ब्लेंडर का उपयोग भी कर सकते हैं। एक पतले कपड़े या छलनी से मिश्रण को छान लें। ताजा जूस को कांच की बोतलों में भरकर बाद में इस्तेमाल करने के लिए फ्रिज में रख दें।
  3. डेंगू बुखार को नियंत्रित करता है – ताजे पपीते के पत्ते के रस में Papain and Carocain जैसे आवश्यक यौगिक होते हैं जो Platelet की संख्या को बढ़ाते हैं और डेंगू बुखार के दौरान Infection को कम करते हैं। Effective परिणामों के लिए पपीते के पत्ते के रस की 25 मिलीलीटर पानी में दिन में दो बार लेना चाहिए ।
  4. मलेरिया रोधी गुण (Antimalarial properties) – पपीते के पत्ते का Extract प्रभावी रूप से मलेरिया का इलाज करने में मदद कर सकता है। इसमें Plasmodiastatic गुण होते हैं जो Indirectly रूप से मलेरिया बुखार को नियंत्रित करते हैं।
  5. पाचन में सहायता करता है – पपीते के ताजे पत्ते Papain, Chymopapain,और आवश्यक फाइबर से भरपूर होते हैं, जो रस के रूप में सेवन करने से पाचन तंत्र में सुधार होता है और सूजन, कब्ज और मल त्याग जैसी समस्याओं को नियंत्रित करता है।
  6. लीवर को बीमारियों से बचाता है – पपीते के पत्ते का रस Cholesterol  के स्तर को कम करके आपके खून को साफ करता है। यह कम Cholesterol का स्तर Lipid Peroxidation को और कम करता है, और लीवर Cirrhosis and Jaundice जैसे सभी प्रकार के मुक्त कणों से प्रेरित सूजन संबंधी बीमारियों से सुरक्षित रहता है।
  7. त्वचा के लिए अच्छा – चेहरे की त्वचा के Clogged Pores को खोलने के लिए ताजे पपीते के पत्ते के रस को Moisturiser के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। जब नियमित रूप से (सप्ताह में दो बार) इस्तेमाल किया जाता है, तो यह चेहरे से मुंहासे, मुंहासे और अत्यधिक तेल को भी साफ करता है।
  8. रूसी और बालों के झड़ने से लड़ता है – इसकेइस्तेमल के लिए ताजा पपीते के पत्तों को पीसकर अपने स्कैल्प पर लगाएं। ऐसा करके  जड़ों में जमा  Excess तेल, गंदगी और जमी हुई मैल को आसानी से हटा सकते हैं। यह खोपड़ी को Nourishes और  Moisturises भी करता है और Dandruff के Formation को रोकता है।

तो हम कह सकते है कि पपीते के पत्ते के जूस का सेवन हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद है इसका सेवन हमारे स्वास्थ के साथ-साथ हमारे बालों और स्किन के लिए भी बहुत गुणकारी है। इसके नियमित सेवन से हमें खतरनाक बिमारियों से लड़ने में मदद मिलती है। 

Leave a Reply