You are currently viewing ऐड़ियों के दर्द के लिए घरेलू उपाय
Home remedies to cure ankle pain

ऐड़ियों के दर्द के लिए घरेलू उपाय

बहुत से लोग ऐसे हैं जिनके चलते फिरते पैरों में काफी दर्द होता है। ऐसा नहीं है कि आपकी उम्र ज्‍यादा होने की वजह से ही ऐसा होता हो। ऐसा कम उम्र के नौजवानों में भी हो सकता है। पूरे दिन की भाग-दौड़ के चलते हम सभी के पैरों में दर्द महसूस होता है। पैरों की एडियों में दर्द हो तो चलना-फिरना भी मुश्किल हो जाता है।

यह दर्द तब महसूस होता है जब आप देर तक खड़ी रहती हैं या फिर ऊंची एड़ी की सैंडल पहनती हों। हो सकता है कि एड़ी का दर्द काफी तेज हो गया हो लेकिन आपको घबराने की जरुरत नहीं है क्‍योंकि यह कोई बीमारी नहीं है।

हमारे पैरों में कुल 26 हड्डियां होती हैं, जिसमें से एड़ी की हड्डी सबसे बड़ी होती है। विशेषज्ञों ने बताया है कि शरीर के वजन से 1.25 ज्‍यादा चलने और दौड़ने के कारण पैरों पर ज्‍यादा दबाव पड़ सकता है। इसकी वजह से एड़ी कमजोर पड़ जाती है और उसमें दर्द हो जाता है। अगर आपको भी एड़ी में दर्द रहता है तो इसे दूर करने के लिये अपनाइये ये घरेलू उपचार।

सामग्री है

1 पीस फटकरी
1/2 चम्मच एलोवेरा
1/2 चम्मच हल्दी पाऊडर

इस्तेमाल की तरीका एक बर्तन में एलोवेरा जैल डालकर धीमी आंच पर गर्म करें। इसमें फटकरी और हल्दी डालें।जब यह पानी छोड़ने लगे तो इसे थोड़ा गुनगुना होने पर रूई से (जितना सह सकें) एडियों पर लगा लें। इसे कपड़े के साथ बांध लें। इसे रात को प्रयोग करें। लगातार 30 दिनों तक इस्तेमाल से आराम मिलेगा।

एड़ी के दर्द को दूर करने के अन्‍य उपाय:
1. गरम ठंडा पानी: गरम ठंडे पानी में पैर को बदल-बदल 3 बार रखें। गरम में पाँच मिनिट, ठंडे में तीन मिनिट। इसको करने से पहले अपने सिर को गीला कर लें और पानी पी लें।

2. काला तिल, एलोवेरा व अदरक: काली मिट्टी में काला तिल, एलोवेरा व अदरक डालकर गर्म करके बाँधने पर अद्भुत लाभ मिलता है।

3. अश्वगंधा: दर्द निवारण के लिए अश्वगंधा का चूर्ण 1-1 चम्मच दूध के साथ लें या अंकुरित(sprouted grains) मेथी दाना का प्रयोग करें।

4. एलोवेरा जेल: सुबह एलोवेरा जेल को छीलकर (50 ग्राम के लगभग) खाएँ।

5. अदरक: अदरक की सब्जी या चटनी खाएँ। पुदीना में खजूर डालकर चटनी बनाकर खाएँ।

6. भोजन: भोजन में आलू, ककड़ी, तौरी, सेव, आँवला, टमाटर, कच्चा पपीता, और पत्तागोभी, गुगल का प्रयोग अति लाभकारी है।

Leave a Reply