You are currently viewing Sprain (मोच) को ठीक करने के घरेलू उपाय

Sprain (मोच) को ठीक करने के घरेलू उपाय

कई बार काम करते समय, खेलते कूदते सीढ़ी चढ़ते हमें यह मालूम ही नहीं हो पाता कि हमारे हाथ-पाँव या कमर में मोच आ जाती है, लेकिन कुछ समय बाद उस जगह दुःखने पर हमें यह पता लगता है। मोच के कारण उस अंग पर सूजन आ जाती है और काफी दर्द होने लगता है, जिसके कारण  असहनीय दर्द या ज्यादा परेशानी होती है। 

इसके अलावा कुछ घरेलू उपायों की मदद से मोच से आराम पा सकते है इसलिए मोच ठीक करने के कुछ घरेलू उपाय इस प्रकार है –

  1. अगर मोच आने के साथ थोड़ा-सा छिल गया है तो सबसे पहले एक कटोरी में पाँच-छह चम्मच सरसों का तेल में आधा छोटा चम्मच हल्दी पाऊडर या कच्चा हल्दी का पेस्ट लें और चार-पाँच लहसुन को पीसकर डालने के बाद धीमी आंच में कुछ देर पका लेने के बाद मोच पर धीरे-धीरे मसाज़ करने से आराम मिलता है। सरसों और हल्दी में एन्टी-इन्फ्लैमटोरी और एन्टी-फंगल गुण होते है जो  सूजन और घाव को ठीक करने में मदद करते है।
  2. मोच ठीक करने का एक और तरीका है जिसमे  मोच वाली जगह  पर चने बांधकर उन्हें पानी से भिगोते रहना चाहिए, ऐसा करने से जैसे-जैसे चने फूलेंगे वैसे-वैसे मोच दूर होती जाएगी। 
  3. तिल के तेल और अफीम के इस्तेमाल से मोच को ठीक किया जासकता है, इसके लिए 50 ग्राम तिल के तेल में 2 ग्राम अफीम को अच्छी तरह से मिलाकर मोच वाली जगह पर मालिश करने से काफी लाभ मिलता है।
  4. फिटकरी के इस्तेमाल से मोच को ठीक किया जा सकता है, इसके लिए फिटकरी का आधा चम्मच ले कर उसे एक गिलास गर्म दूध में मिक्स कर के पीने से मोच कि दर्द से आराम मिलता है और इससे चोट जल्दी ठीक हो जाती है। इसके अलावा फिटकरी को गर्म पानी में मिलाकर मोच वाली जगह कि कटोर करने से भी आराम मिलता है। 
  5. इसके लिए शहद और चूने दोनों को बराबर मात्रा में मिला कर मोच वाली जगह पर हल्की मालिश करने से आराम मिलता है। 
  6. तुलसी की पत्तियों  को पीसकर पेस्ट बनाकर चोट वाले स्थान पर लगाने से बहुत लाभ मिलता है। इसके अलावा सरसों के तेल में तुलसी के पत्तों का रस मिलाकर लगाने से बहुत लाभ होता है।
  7. मोच कि समस्या होने पर 10-10 ग्राम नौसादर और कलमी शोरा को पीसकर उसे 200 ग्राम पानी में मिलाकर फिर इसमें  कपड़ा भिगोकर बार-बार मोच के ऊपर लगाने से बहुत जल्दी आराम मिलता है। 
  8. मोच कि समस्या होने पर दूध में हल्दी मिलाकर पीने से बहुत जल्दी आराम मिलता है और इसके सेवन से अंदरूनी चोट जल्दी ठीक होती है।
  9. मोच कि समस्या में  बरगद के कोमल पत्ते पर शहद लगाकर बांधने से लाभ होता है, इसके इस्तेमाल से जो खून जम गया हो  तो वे  ठीक हो जाता  है।
  10. इसके लिए पान के पत्ते पर सरसों का तेल लगाकर उसे हल्का गुनगुना गर्म करके मोच वाले स्थान पर बांधने से बहुत आराम मिलता है।
  11. यदि मोच लगने के तुरंत बाद ही उस जगह पर बर्फ लगा कर सेकाई करने से उस जगह पर सूजन नहीं आती और दर्द भी कम होता है। इसके अलावा दर्द को दूर करने के लिये हर 1-2 घंटे में 20 मिनट की बर्फ से सिकाई करनी चाहिये और  बर्फ को हमेशा किसी कपड़े में लपेट कर लगाना चाहिये।

तो इन कुछ घरेलू उपायों की मदद से मोच या स्प्रेन की  समस्या को दूर किया जा सकता है, इसके अलावा जिस जगह मोच आयी है, उस जगह को ज्यादा हिलाना नहीं चाहिए, हमें रेस्ट का ध्यान रखना चाहिए जिस जगह मोच आयी है उस पर अधिक प्रेशर न पड़े, हल्दी वाले दूध के सेवन से मोच से होने वाली सूजन और दर्द जल्दी ठीक होता है। 

Leave a Reply