You are currently viewing बालतोड़ कि समस्या के घरेलू उपाय

बालतोड़ कि समस्या के घरेलू उपाय

हर व्यक्ति के शरीर पर बाल होते ही हैं,पर कई लोगों के शरीर पर घने बाल होते और कई लोगों के कम बाल होते हैं। कई बार किसी बजह से जब हमारा बाल जड़ से टूट जाता है तो इसके कारण बहुत दर्द होता है ये घाव धीरे-धीरे बढ़ जाता है। ये एक बेक्टेरिया के कारण होता है जिसे स्टेफिलोकोकस ऑरियस (Staphylococcus Aureus) कहा जाता है।

ये  बैक्टीरिया वैसे तो स्किन में  मौजूद होता है। लेकिन बाल टूटने, घाव या चोट लगने पर ये बैक्टीरिया बालों की जड़ों में शरीर के अंदर  प्रवेश कर जाता है। बालतोड़ कि समस्या से बचने के घरेलू उपाय इस प्रकार है –

  1. हल्दी –  हल्दी  में एंटी इफ्लेमेटरी और नैचुरल ब्‍लड प्‍यूरीफायर के गुण पाए जाते है इसलिए बालतोड़ कि समस्या में हल्दी लगाने से सूजन और दर्द को कम किया जा सकता है। 
  2. लहसुन – लहसुन में  एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुण होते है, इसलिए इसे बालतोड़ पर लगाने से इन्फेक्शन कम होती है और दर्द से राहत मिलती है। 
  3. प्याज – प्याज में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी माइक्रोबियल गुण पाए जाते है, इसलिए प्याज के पतले स्लाइस को बालतोड़ पर बांधने से आराम मिलता है। 
  4. मेहँदी – मेहँदी कि तासीर ठंडी होती है इसलिए इसका लेप लगाने से आराम मिलता है, सुबह-शाम इसका लेप लगाने से बालतोड़ का घाव जल्दी ठीक होता है। 
  5. पान के पत्ते – पान के पत्तों के इस्तेमाल से बालतोड़ कि समस्या को दूर किया जा सकता है, इसके लिए पान के पत्ते को गर्म करके उसमें थोड़ा सा कैस्टर ऑयल मिलाकर बालतोड़ पर लगाने के बाद एक कपड़े से बांध ले इससे आराम मिलेगा।
  6. लहसुन – लहसुन में  एलिसिन नामक तत्व होता  है, जो एंटीऑक्सीडेंट व एंटी बैक्टीरिया की तरह काम करता है जो किसी भी प्रकार के घाव को ठीक करने में मदद करते है। इसके इस्तेमाल के लिए लहसुन का पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाने से आराम मिलता है और घाव जल्दी ठीक होता है। 
  7. अरंडी का तेल – इसके लिए अरंडी के तेल में रुई को डुबो कर अपने प्रभावित जगह पर लगाने से दर्द कम होता है और ये बालतोड़ के सक्रंमण को बढ़ने से रोकता है। 
  8. नीम – नीम के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें, फिर इसे अपने घाव पर लगा ले इससे बहुत आराम मिलता है इसके अलावा नीम के तेल को रुई में डुबोकर अपने प्रभावित जगह पर लगाने से दर्द ठीक होता है और इन्फेक्शन भी नहीं फैलता। 
  9. सिकाई – इसके लिए एक कॉटन के कपड़े को गर्म करके अपने प्रभावित जगह पर रखें, ऐसा करने से आराम मिलता है और दर्द भी कम होता है। 
  10. आटे या रोटी की पुल्टिस – इसके लिए रोटी को गर्म दूध या गर्म पानी में भिगो कर अपने प्रभावित जगह पर लगाने से काफी राहत मिलती है और दर्द  और सूजन भी कम होती  है और इसके इस्तेमाल से इन्फेक्शन भी नहीं फैलता।
  11. कलोंजी – इसके लिए कलोंजी के बीजों का पेस्ट बनाकर अपने प्रभावित जगह पर लगाने से बालतोड़ कि समस्या को दूर किया जा सकता है ,इसके आलावा कलोंजी के तेल को लगाया जा सकता है।  कलोंजी में औषधीय गुण होते है जो बालतोड़ के सक्रंमण को बढ़ने से रोकते है। 
  12. मिल्क क्रीम – इसके लिए एक कप गर्म दूध में तीन चम्मच नमक मिलाकर उसमे  कुछ आटा या रोटी के टुकड़ों को तोड़कर डालें, फिर इस  मिश्रण को अपने  प्रभावित जगह पर लगाए इससे बालतोड़ कि समस्या को दूर किया जा सकता है। इसके आलावा मिल्क क्रीम में थोड़ा सा सिरका  मिलाकर लगाने से भी राहत मिलती है। 
  13. मकई का आटा – इसके लिए एक कप उबले हुए पानी में मकई का आटा मिलाकर पेस्ट बना ले फिर इसे अपने बालतोड़ वाले हिस्से पर लगा कर एक कपड़े से बांध ले, इससे काफी आराम मिलता है इसके इस्तेमाल से सूजन और दर्द कम होती है। इसे लगाने से घाव नरम हो के उसमे से मवाद बाहर निकल जाता है। 

तो हम कह सकते है कि बालतोड़ कि समस्या एक सामान्य समस्या है पर कई बार इसके कारण असहनीय दर्द को सहन करना पडता है, इसलिए इन घरेलू उपायों कि मदद से हम इस समस्या को दूर कर सकते है। हल्दी वाला दूध पीना चाहिए  इससे भी दर्द से राहत मिलती है

Leave a Reply