You are currently viewing पूरे दिन बैठकर काम करने से होने वाले मसल खिचाव को कम करने के उपाय
पूरे दिन बैठकर काम करने से होने वाले मसल खिचाव को कम करने के उपाय

पूरे दिन बैठकर काम करने से होने वाले मसल खिचाव को कम करने के उपाय

आजकल की बिज़ी लाइफ होने के कारण कई बार लोगों को लगातार कई घंटे बैठकर काम करने पड़ता है जिसके कारण उनकी मसल में खिचाव और दर्द होने लगता है। ऑफिस पहुंचने के लिए मेट्रो या बस में खड़े होकर बैठने से कुछ नहीं होता। लेकिन कई बार ये समस्या सोने से, रसोई में कॉफी बनाना और दिन भर घर पर अपने डेस्क पर बैठना आदि से होती है। इससे शरीर में एक बेचैनी महसूस होती है। कई बार गर्दन और पीठ में अकड़न हो जाती हैं। इस जकड़न की समस्या को कम करने के लिए कुछ व्यायाम इस प्रकार है –

  1. गर्दन को ग्लाइड करने से – इसके लिए हमें अपनी उंगलियों को ठोड़ी पर रखकर फिर अपनी आँखों से Diagonally नीचे देखें, इससे पीछे खिंचाव पड़ेगा और ऐसा करने से आराम महसूस होगा। इस अभ्यास को 5-10 प्रतिदिन  हर दो घंटे में  करना चाहिए ऐसा करने से गर्दन की जकड़न को कम और आराम मिल जाता है। 
  2. कंधा और छाती की जकड़न को दूर करने के लिए – कंदधे और छाती की जकड़न को कम करने के लिए हमें अपनी कोहनियों को पीछे ले जाना चाहिए इससे हल्का सा खिंचाव महसूस करेंगे और फिर अपने कंधे के ब्लेड को एक साथ Squeeze करें और हल्का सा खिंचाव महसूस होगा ऐसा करते हुए कुछ सेकंड के लिए रुकें और इसे आराम करें। ऐसा प्रतिदिन हर दो घंटे में 3-5 बार करने से आपके कंधों और छाती से तनाव को दूर कर सकते हैं और आराम मिलता है। 
  3. Thoracic स्पाइन के लिए – कई बार लगातार यह की जगह काम करते हुए हमारी थोरेसिक स्पाइन में दर्द होने लगता है इस खिंचाव को कम करने के लिए हमें अपनी  बाहों को हर तरफ 3-5 बार खोलना चाहिए इसके लिए अपनी बाहों को फैलाकर सीधे खड़े हो जाएं और सामने की और झुक जाएं फिर इसके बाद अपने बाएं हाथ को पीछे की ओर बढ़ाएं और इसे वापस Initial  स्थिति में लाएं और फिर ऐसा दूसरी तरफ दोहराएं और इस बात का ध्यान रखें Pelvis को Possible हो सके तो स्थिर अवस्था में रखे।  
  4. एक पूर्ण रीढ़ खिंचाव के लिए – कई बार लगातार काम करते रहने से हमारी रीड की हड्डी में दर्द होने लगता है इसके लिए अपने हाथों को टेबल पर रखें और अपने घुटनों को नरम रखते हुए अपनी पीठ को पीछे की ओर stretch करें ऐसा हर दो घंटे में इस अभ्यास के 3-5 बार करें। रीढ़ की हड्डी को Stretch करने से पीठ में खिंचाव महसूस होगा और आपको आराम भी मिलेगा।  
  5. Ankle Mobility के लिए Ankle स्ट्रेचेस करने से – इसके लिए अपनी Ankle को धीरे-धीरे Circles  में बाईं ओर घुमाते हुए शुरू करें, फिर दाईं ओर करना चाहिए ऐसा प्रतिदिन हर दो घंटे में 5-10 बार करना चाहिए जब आप ऐसा करते हैं तो Ankle Movement को तेज करने और केवल अपने Ankle पर ध्यान Focus करने की आवश्यकता नहीं होती इस तरह करने से एंकल स्ट्रेच को कम किया जा सकता है। 

अपने शरीर की जकड़न को कम करने और दूर करना क्यों जरूरी है –

 लंबे समय तक बैठने से या लगातार काम करते रहने से हमारे स्वास्थ्य पर थोड़े समय के लिए या फिर लम्बे समय के लिए बुरे प्रभाव पड़ सकते हैं। बैठने से आपके Hip Flexors को छोटा होता है, इससे आपकी पीठ को भी नुकसान हो सकता है, खासकर यदि आप Terrible Posture में बैठते है या एर्गोनोमिक कुर्सी का उपयोग नहीं करते हैं। इसके अलावा, सही ढंग से ना बैठने की मुद्रा आपकी रीढ़ में डिस्क के Compression का कारण बन सकती है, जिसके कारण परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

तो हम कह सकते है कि इन समस्याओं से बचने के लिए आप इन आसान स्ट्रेच को नियमित रूप से कर सकते हैं। यह मांसपेशियों को खोलने में मदद करेगा और लंबे समय तक बैठने के हानिकारक प्रभावों कम करने में मदद करेगा। 

Leave a Reply