You are currently viewing नेल फंगस के उपचार के लिये अपनाएं ये घरेलू तरीके
नेल फंगस के उपचार के लिये अपनाएं ये घरेलू तरीके

नेल फंगस के उपचार के लिये अपनाएं ये घरेलू तरीके

नाखूनों में संक्रमण स्बहुत ही हानिकारक होता है। यह गंदगी, प्रदूषण, साफ़ सफाई ना होना, सिंथेटिक मोजे, और पैरों में बहुत देर तक पसीना जमा रहने की वजह से होता है। कभी कभी नाखूनों में संक्रमण का कारण शरीर में असंतुलित पीएच लेवल और कमज़ोर रोग प्रतिरोधक छमता से हो सकती है। अगर इसका इलाज़ सही समय पर ना किया जाए तो इससे नाखून मोटे हो जाते हैं जिनमें आगे चल कर बहुत दर्द होता है। यह सारे लक्षण अगर आपके नाखूनों में हैं और उसके आस पास सूजन रहती हो तो नीचे दिए गए घरेलू तरीके आज़माये।

  1. एप्पल साइडर वेनिगर: यह न सिर्फ आपको चमकदार त्वचा देगा बल्कि इसमें पाए जाने वाले एसिटिक एसिड और एंटी इन्फ्लैमटोरी गुणों के कारण यह नाखूनों के संक्रमण को बढ़ने नहीं देता है। एप्पल साइडर विनगर और पानी की बराबर मात्रा लें। अब इसमें अपने पैर और हाथ दोनों भिगों दें। इसे रोज़ करने से संक्रमण ठीक हो जायेगा।
  2. लहसुन: लहसुन से नाखूनों का संक्रमण ठीक किया जा सकता है। इसमें एंटी फंगल गुण होते हैं जिससे दोबारा बैक्टीरिया नहीं पनपते हैं। कुछ लहसुन की कलियाँ लें इसे अच्छे से मैश कर लें। फिर इसमें वाइट विनगर मिलाएं। अब इस मिश्रण में अपने नाखूनों को 10-20 मिनट के लिए भिगोएं।
  3. नींबू का रस: नींबू न ही सिर्फ दाग धब्बा ठीक करता है बल्कि यह नाखूनों का इन्फेक्शन भी ठीक करता है। नींबू में एंटीसेप्टिक और ऐन्टीबैक्टिरीअल गुण पाए जाते हैं जिससे संक्रमण बढ़ने से रुकता है। नींबू का रस दिन में दो बार नाखूनों पर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  4. टी ट्री आयल: टी ट्री आयल नाखूनों के संक्रमण को ठीक करने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। यह प्राकृतिक कीटाणुनाशक है जिसमें कवकनाशी और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं, हो सकता है कि यह नाखूनों का संक्रमण जल्दी ठीक ना करे लेकिन सबसे उपयोगी इलाज है। थोड़ा सा टी ट्री आयल लें उसमें जैतून का तेल मिलाएं। अब रुई की मदद से इसे नाखूनों पर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें।
  5. माउथ वॉश: माउथ वॉश में एंटीसेप्टिक और एंटी-फंगल गुण होते हैं जिसकी वजह से वह मुँह के कीटाणु मर जाते हैं। इसीलिए यह नाखूनों के संक्रमण लिए लाभदायक है। थोड़ा माउथवॉश लें उसमें थोड़ा एप्पल साइडर वेनेगर मिलाएं। अब इस मिश्रण को नाखूनों पर लगाएं और थोड़ी देर के लिए छोड़ दें। इसे रोज़ करने से नाखूनों का संक्रमण ठीक हो जायेगा।
  6. ऑरगैनो ऑइल: ऑरगैनो ऑइल में एंटी-फंगल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी इन्फ्लैमटॉरी और ऐनल्जीसिक गुण पाए जाते हैं। जो नाखूनों के संक्रमण से बचाता है। इसके लिए दो चम्मच ऑरगैनो ऑइल लें इसमें दो चम्मच जैतून का तेल मिलाएं अब इसे अच्छे से मिला लें। इस मिश्रण को नाखूनों पर लगाएं। इसे हफ्ते में दो से तीन बार करें।
  7. गर्म पानी: हमेशा अपने हाथों और नाखूनों को गर्म पानी से धोए क्योंकि गर्म पानी से डेड स्किन निकल जाती है जिससे नाखूनों में संक्रमण नहीं होता है यही नहीं गर्म पानी से ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता है। अब इसके लिए गर्म पानी में थोड़ा सा नारियल का तेल या नींबू का रस डालें इसमें थोड़ी देर अपने हाथ और पैर भिगो कर रखें। इसे रोज़ करें संक्रमण ठीक होने लगेगा।

Leave a Reply