You are currently viewing दालीचीनी को करें अपनी ज़िंदगी  में शामिल

दालीचीनी को करें अपनी ज़िंदगी में शामिल

जी हाँ दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं दालचीनी के बारे में| दालचीनी इक तेज़ खुशबूदार मसाला है जो आम तौर पर सब्जी में स्वाद बढ़ाने के लिए मसाले  के रूप में इस्तेमाल किया जाता है दालचीनी आयुर्वेद में एक ऐसी औषधि है जिससे न सिर्फ कफ के रोग दूर होते हैं बल्कि पित्त के रोगों के लिए भी दालचीनी वरदान है| इसमें एंटी ऑक्सीडेंट गुण होते हैं इसके अंदर विटामिन A, B-COMPLEX, C, K, E की भरपूर मात्रा पाई जाती है| दालचीनी का प्रयोग अनेको बिमारियों को ठीक करने में किया जाता है|

– जो लोग मोटापे से ग्रस्त है और जिन लोगों का वजन जल्दी कम नहीं होता उन् लोगो को वज़न कम करने के लिए दालचीनी का सेवन करना चाहिए| दालचीनी से फैट जल्दी कम होता है|

– इसके इलावा कफ के रोगियों को जिनको अस्थमा, दमा और बलगम वाली खांसी की समस्या बनी रहती है ऐसे लोगों को लगातार दालचीनी को शहद या गुड़ में मिलाकर लेते रहना चाहिए इस से उनको जल्दी इस समस्या से छुटकारा मिलेगा|

– दिल के रोगी या जिनका कोलेस्ट्रॉल लेवल हाई रहता है उनके लिए यह दालचीनी इक बेस्ट औषधि है इस के साथ ही दालचीनी  सांस फूलने की समस्या को भी जड़ से खत्म करती है|

– सर्दी जुखाम हो या वायरल फीवर इस में भी दालचीनी की tea बनाकर पीने से बुखार और सर्दी जुखाम ठीक होता है इसी प्रकार तेज़ बुखार को उतारने में भी दालचीनी बहुत उपयोगी है|

– इसी प्रकार यह एलर्जी के लिए तो सर्वोत्तम औषधि है|

– भूख न लगने की समस्या या अपच या खाया पिया न लगता हो तो भी दालचीनी का कोई जवाब नहीं| दालचीनी पेट की हर प्रकार की समस्या को दूर करने में सहायक है इसका निरतर सेवन करते रहने से हाजमा दुरुस्त होता है और एसिडिटी की समस्या भी दूर होती है|

– होर्मोनेस की गड़बड़ी के कारण या फिर किसी अन्य कारणों से बहुत से लोग तनाव में रहते हैं ऐसे में अनिद्रा इक बहुत बड़ी समस्या बन जाती है अगर रात को सोने के समय दालचीनी का सेवन करने की आदत डाल ली जाये तो अनिद्रा की समस्या तो दूर होगी, साथ में स्ट्रेस से भी निजात मिलेगी|

– शुगर लेवल को और हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में भी दालचीनी का उपयोग आयुर्वेद में किया जाता रहा है|

– दालचीनी का सेवन करते रहने से दांतों और जोड़ों को मजबूती मिलती है|

– दालचीनी हमारी स्किन को स्वस्थ्य एवं चमकदार बनाये रखने में भी मदद करती है|
इस के लिए १ स्पून दालचीनी पाउडर में हनी मिलाकर फेस पर 15min. तक लगाए हफ्ते में 1-2 बार लगाने से स्किन का रंग निखरता है|

बालों के लिए : गंजेपन में या अधिक बाल झड़ने की समस्या में भी दालचीनी को उपयोग में लाया जा सकता है 1 चम्मच दालचीनी पाउडर को 2लीटर पानी में मिलाकर सिर धोने के बाद आखिर में सिर में डालें इस से बालों में नई जान आएगी और बालों के झड़ने की समस्या से राहत मिलेगी|

उपयोग : बेहतर परिणामो के लिए दालचीनी को पाउडर के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए|
दालचीनी को उपयोग करने के लिए गुड़ के साथ खूब घिस क्र खाइये फिर थोड़ा गर्म पानी पिएं|
शहद के साथ खाना है तो इस को अच्छे से 4-5 min के लिए मिक्स करते रहिये और फिर चाटिये ऊपर से गर्म पानी पिएं|
दालचीनी 50 तरह के कफ और वात रोग को खत्म करने में कारगर है|
रोज़ सुबह 1 गलास गर्म पानी में इक चुटकी दालचीनी पाउडर मिलाकर पिएं| इसकी 1gm से ज्यादा मात्रा न लें क्यों की दालचीनी तासीर में गर्म होती है और यह शुष्क होती है इसी लिए गर्मी के मौसम में इस का लगातार सेवन करने से बचें| हर इक व्यक्ति की प्रकीर्ति भी अलग अलग होती है अगर ये आपको सूट न करे तो इस का सेवन बंद करें|

Leave a Reply